lostworld


महफ़िल ना सही तन्हाई तो मिलती है,
मिलना न सही जुदाई तो मिलती है,
कौन कहता इश्क़ में कुछ नहीं मिलता?
वफ़ा न सही बेवफाई तो मिलती है।

 380views
0Like(s)   0Dislike(s)  
Share