hdmavani


गिला कैसा कि हम मुँह मोड़ तेरे दर से उठ आये,
यूँ तूने भी तो अपना मुँह हम से अक्सर ही मोड़ा है..

 704views
0Like(s)   0Dislike(s)  
Share