hdmavani


सलीक़ा हो अगर भीगी हुई आँखों को पढने का, तो फिर बहते हुए आंसू भी अक्सर बात करते हैं
 661views
0Like(s)   0Dislike(s)  
Share  

You may also like